Logopit 1598035098165

दीपक बोलता नहीं है उसका प्रकाश परिचय देता है।

दीपक बोलता नहीं है उसका प्रकाश परिचय देता है।

दीपक बोलता नहीं है उसका प्रकाश परिचय देता है।

Sermon on mount Hindi

एक छोटे लड़के ने अपने पिता से कहा, पिता जी, जब आप मेरी उम्र के थे। तो क्या, दादा जी, आप को संडे स्कूल में भेजते थे?

पिता ने कहा, हाँ मैं संडे स्कूल जाता था। हम हर रविवार चर्च जाते थे।

लड़के ने अपने पिता के जीवन में कोई परिवर्तन न देख कर दुखी हो कर कहा, अब मुझे यकीन हो गया है कि इससे मुझे कोई फायदा नहीं होने वाला है।

दीपक बोलता नहीं है उसका प्रकाश परिचय देता है।

सिर्फ चर्च जाना ही काफी नहीं है। हमें बाइबल को अपने रोज़मर्रा के जीवन में लागू करना चाहिए।

उसी प्रकार तुम्हारा उजियाला मनुष्यों के साम्हने चमके कि वे तुम्हारे भले कामों को देखकर तुम्हारे पिता की, जो स्वर्ग में हैं, बड़ाई करें॥ मत्ती 5:16

रौशनी या प्रकाश को चमकने के लिए उर्जा की जरूरत होती है। संसारिक दृष्टी से एक दीये को तेल की उर्जा चाहिए और बल्ब को बिजली की उर्जा चाहिए।

कुछ उसी तरह से मुझे और आपको पवित्र आत्मा की उर्जा की जरूरत है। ताकि हमारा उजियाला मनुष्यों के साम्हने चमक सके। संसारिक उर्जा खत्म हो सकती है पर आत्मिक चीजों का अंत नही होता।

मैं जगत में ज्योति होकर आया हूं ताकि जो कोई मुझ पर विश्वास करे, वह अन्धकार में न रहे। यूहन्ना 12:46

यीशु मसीह कल और आज और युगानुयुग एक सा है। इब्रानियों 13:8

कैसे हम अपने भीतर LIGHT यानि प्रकाश को चमका सकते हैं?

L – Love, लोगों में मसीह का प्रेम बांट कर।

हमें खोए हुए लोगों को मसीह का सा प्रेम दर्शाना चाहिए। जो लोग मसीह यीशु के प्रेम को नहीं जानते उन्हें मसीह का प्रेम बांटें।

उस ने निकलकर बड़ी भीड़ देखी, और उन पर तरस खाया, क्योंकि वे उन भेड़ों के समान थे, जिन का कोई रखवाला न हो; और वह उन्हें बहुत सी बातें सिखाने लगा। मरकुस 6:34

I – Intercede, उनके लिए लगातार प्रार्थना में मध्यस्थता करनी चाहिए।

संत पौलूस आध्यात्मिक रूप से अंधे लोगों का वर्णन करते हैं। आध्यात्मिक रूप से अंधा व्यक्ति प्रकाश को नहीं देख सकता है। आत्मिक दृष्टि केवल पर्मेश्वर ही दे सकते हैं। इस लिए हमें उनके लिए प्रार्थना करनी चाहिए कि उनकी आँखें खुल सकें। वह भी परमेश्वर योजना को समझ व देख सकें।

परन्तु यदि हमारे सुसमाचार पर परदा पड़ा है, तो यह नाश होने वालों ही के लिये पड़ा है। 2 कुरिन्थियों 4:3

और उन अविश्वासियों के लिये, जिन की बुद्धि को इस संसार के ईश्वर ने अंधी कर दी है, ताकि मसीह जो परमेश्वर का प्रतिरूप है, उसके तेजोमय सुसमाचार का प्रकाश उन पर न चमके। 2 कुरिन्थियों 4:4

G – Go, उद्देश्यपुर्वक उनके पास जाओ।

महान आदेश स्पष्ट रूप से हम पर जिम्मेदारी डालता है कि हमें जाना चाहिए और सभी राष्ट्रों को सिखाना चाहिए। जाओ शिष्य बनाओ और सुसमाचार प्रचार करो।

लेकिन आज अधिकतर कलिसियायों में लोगों को कहा जाता है। हमारे चर्च में आओ परन्तु पर्मेश्वर कह रहें हैं, जाओ। नाश हो रहे संसार में उदेश्यपुर्ण जाओ और उन्हें खुश खबरी सुनाओ।

यदि हम नहीं जाएँगे … तो वे नहीं सुनेंगे … वह कैसे बच सकते हैं।

H – Help them, व्यावहारिक रूप से उनकी मदद करें।

जब हम यीशु के नाम से लोगों की देखभाल करते हैं, तो हमारा प्रकाश वाकई चमकता है। किसी ने कहा है, जब हम उनकी परवाह करते हैं, तो वे हमारी बातों की परवाह करना शुरू कर देंगे। अपनी योग्यता के अनुसार सहायता करें।

T – Tell them plainly, उन्हें स्पष्ट रूप से बताएं।

अगर हम स्पष्ट रूप से उन्हें नहीं बताते हैं कि हम यह क्या और क्यों करते हैं तो वे हमारी ही प्रशंसा करेंगे ना कि पर्मेश्वर की। उन्हें बताएं कि प्रत्येक मसीही जन को यीशु ने आज्ञा दी है कि वह दूसरों को भी सुसमाचार बांटें।

उसी प्रकार तुम्हारा उजियाला मनुष्यों के साम्हने चमके कि वे तुम्हारे भले कामों को देखकर तुम्हारे पिता की, जो स्वर्ग में हैं, बड़ाई करें॥ मत्ती 5:16

मत्ती 5:16, संदेश को लागू करने के तीन तरीके हैं।

पहला: हम एक व्यक्ति के रूप में दूसरों के लिए प्रकाश बन सकते हैं।

जैसे यीशु ने कहा, “तुम्हारा उजियाला मनुष्यों के साम्हने चमके”। मसीह में दूसरों के लिए मिसाल बन कर। जो लोग बाईबल नही पढ़ते वह आपको पढ़ते हैं।

दूसरा: एक परिवार के रूप में हम दूसरों के लिए प्रकाश बन सकते हैं।

इफिसियों 5 दर्शाता है कि विवाह और हमारा परिवार मसीह यीशू का प्रतिनिधित्व करते हैं। संसार में पीड़ित परिवारों के लिए मसीह के प्रेम को प्रदर्शित करने का एक शानदार अवसर है। मसीही विश्वासी परिवार दूसरे परिवारों के लिए मिसाल बनना चाहिए।

तीसरा: एक कलिसिया के रूप में हम प्रकाश बन सकते हैं।

प्रकाशित वाक्य की पुस्तक में कलिसिया की तुलना दीवट से की गई है। हमें स्थानीय कलिसिया की सहायता करनी चाहिए जो प्रकाश को चमकाने के लिए एक प्रयास हैं। हमें सथानीय कलिसिया के साथ सुसमचार प्रचार के लिए जाना चाहिए। कलिसिया की उन्नति के लिए दूसरे विश्वासी भाई बहनों के साथ मिलकर अपने अगुवे का सहयोग करना चाहिए।

यीशू ने कहा, तुम्हारा उजियाला मनुष्यों के साम्हने चमके। क्या हम उसकी आज्ञा का पालन कर रहें हैं? क्या हम अपने प्रकाश यानि उजियाले को चमकने के अवसरों की तलाश कर रहे हैं या हम अपने दीये को छिपा रहे हैं।

कृपया यदि आप इस वचन से उत्साहित हुए हैं तो दूसरे लोगों को भी शेयर करें और हमें कमेंट में लिखें।

पर्मेश्वर आपको इस वचन के माध्यम से अशीष दे, मेरे प्रभू यीशू मसीह के मधुर नाम से आमीन!

76 thoughts on “दीपक बोलता नहीं है उसका प्रकाश परिचय देता है।”

  1. Heya i am for the first time here. I came across this board and I find It really useful
    & it helped me out much. I hope to give something back and aid others like you helped me.

  2. A fascinating discussion is definitely worth comment.

    I do think that you ought to publish more on this topic, it might not be a
    taboo matter but generally people do not speak about such subjects.
    To the next! Many thanks!!

  3. Howdy I am so excited I found your web site, I really found you by mistake, while I was looking on Askjeeve for something else, Anyways I
    am here now and would just like to say many thanks for a marvelous post and
    a all round enjoyable blog (I also love the theme/design), I don’t have time to read through it
    all at the moment but I have book-marked it and
    also included your RSS feeds, so when I have time I will be back to
    read a great deal more, Please do keep up the awesome job.

    Feel free to surf to my blog post – private driver cannes

  4. I don’t even know how I ended up here, but I believed this submit was once
    good. I do not recognize who you’re but definitely you’re going to a famous blogger for those who aren’t already.

    Cheers!

  5. You really make it seem so easy with your presentation but I to find this
    matter to be actually one thing which I feel I would by no means
    understand. It sort of feels too complex and very large for me.
    I am having a look forward on your next post, I’ll try to get the dangle of it!

    Look at my blog post – taxi nice airport

  6. I believe this is one of the so much important info for me.
    And i’m satisfied studying your article. But wanna observation on few normal issues, The web
    site style is wonderful, the articles is in reality
    great : D. Excellent job, cheers

  7. Hi there are using WordPress for your blog platform?
    I’m new to the blog world but I’m trying to get started and set up my own. Do you
    need any html coding expertise to make your own blog?
    Any help would be greatly appreciated!

  8. I do trust all of the concepts you have presented on your post.
    They are really convincing and will definitely work. Nonetheless,
    the posts are very quick for novices. May just you please lengthen them a little from subsequent time?
    Thank you for the post.

  9. Nice post. I was checking constantly this blog and I am
    impressed! Extremely helpful information specifically the last part :
    ) I care for such info a lot. I was seeking this particular info for
    a long time. Thank you and good luck.

  10. you’re truly a just right webmaster. The site loading velocity is incredible.
    It sort of feels that you are doing any distinctive
    trick. Moreover, The contents are masterpiece. you have performed a great activity
    on this matter!

  11. An outstanding share! I have just forwarded this onto a co-worker who has been doing a little research on this.
    And he actually bought me breakfast due to the fact that I
    found it for him… lol. So let me reword this….
    Thank YOU for the meal!! But yeah, thanx for spending some time to discuss this subject here
    on your web site.

  12. Thanks for your personal marvelous posting! I quite enjoyed reading it, you’re a great author.I will make certain to bookmark your blog
    and may come back from now on. I want to encourage you to ultimately continue
    your great job, have a nice holiday weekend!

  13. I’m not sure exactly why but this website is loading incredibly slow for me.
    Is anyone else having this issue or is it a issue on my end?
    I’ll check back later on and see if the problem still exists.

  14. An intriguing discussion is worth comment. I do
    believe that you need to publish more about this topic, it might not be a taboo matter but usually folks don’t discuss such topics.
    To the next! Many thanks!!

  15. Hey there! This is kind of off topic but I need some help from an established
    blog. Is it very difficult to set up your own blog?
    I’m not very techincal but I can figure things out pretty
    quick. I’m thinking about setting up my own but I’m not sure where to begin. Do you have any points or suggestions?
    Many thanks

  16. Woah! I’m really loving the template/theme of this blog.
    It’s simple, yet effective. A lot of times it’s difficult to get
    that “perfect balance” between usability and visual appeal.
    I must say you have done a amazing job with this.
    In addition, the blog loads extremely quick for me on Safari.

    Superb Blog!

  17. Hello there, You have done a fantastic job.
    I will certainly digg it and personally recommend to my friends.
    I’m sure they’ll be benefited from this website.

  18. Appreciating the dedication you put into your site and
    in depth information you offer. It’s awesome to come across a blog every once in a
    while that isn’t the same old rehashed information. Wonderful read!
    I’ve saved your site and I’m adding your RSS feeds to my Google account.

  19. My partner and I stumbled over here from a different
    web page and thought I might as well check things out.
    I like what I see so now i’m following you. Look forward
    to finding out about your web page again.

  20. Simply desire to say your article is as surprising. The clearness in your post is just excellent and
    i could assume you are an expert on this subject. Well with your
    permission let me to grab your feed to keep
    up to date with forthcoming post. Thanks a million and please continue the enjoyable work.

  21. Thanks on your marvelous posting! I definitely enjoyed reading it, you may be a great author.
    I will make sure to bookmark your blog and will often come back down the road.
    I want to encourage yourself to continue
    your great work, have a nice holiday weekend!

  22. I am not certain where you’re getting your info, however good topic.
    I must spend some time studying much more or understanding more.
    Thanks for magnificent info I used to be looking
    for this info for my mission.

  23. Thank you for some other informative site. The place else may I am getting that
    type of info written in such an ideal means?

    I have a undertaking that I’m simply now working on, and
    I have been at the look out for such info.

  24. After going over a handful of the blog posts on your site, I really appreciate your technique of writing a blog.

    I saved as a favorite it to my bookmark website list and
    will be checking back soon. Please visit my web site
    too and tell me how you feel.

  25. Oh my goodness! Awesome article dude! Thank you, However I am
    experiencing issues with your RSS. I don’t understand the reason why I cannot join it.
    Is there anyone else having identical RSS problems?
    Anyone who knows the answer can you kindly respond? Thanks!!

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Open chat
1
Praise the lord! How can I help you?